Followers

गुरुवार, 6 अक्तूबर 2011

चेहरों का फ़साना ...









  • नेता हूँ
    खरीदता हूँ , बेचता हूँ
    ईमान धरम जो मिल जाए,
    कौड़ियों के दाम मिलता है , ये
    बिकता है , अच्छे भाव!


मोहब्बत जडाऊ नहीं होती .........

चाहती थी प्रीत बंजारन
के पांव में बिछुए पहनाना
मोहब्बत के नगों से जड़कर
... बनाना चाहती थी
एक नयी इबारत
एक नयी उम्मीद
एक नया अहसास
मोहब्बत के लिबास का
पर मोहब्बत ने कब
लिबास पहना है
कब नग बन
किसी अहसास में उतरी है
मोहब्बत न तो कभी
बेपर्दा हुयी है
और न ही कभी
लिबास में ढकी है
मोहब्बत ने तो
हर युग में
हर काल में
एक नयी इबारत गढ़ी है
और हर रूह को छूती
हवा सी बही है
और बंजारे कब कहीं
ठहरे हैं
फिर प्रीत बंजारन को
कैसे कोई छाँव मिलती
जो किसी नगीने सी
किसी जेवर में जड़ी जाती
शायद तभी
मोहब्बत जडाऊ नहीं होती ......
















तुमको आया नहीं तब्दीली ऐ मौसम का ख्याल
वरना हालात तो होते हैं बदलने के लिए !!

तुम भला क्या नई मंजिल की बशारत दोगे !
तुम तो रस्ता नहीं देते हमें चलने के लिए !!

- सलीम कौसर साहब




स्‍वीडन के कवि टॉमस ट्रांसट्रोमर को नोबल पुरस्‍कार घोषित कर दिया गया है।










  • बेहद मुश्किल दुष्कर्मों ( जो कभी मुझे बहुत प्रिय हुआ करते थे ) को शनै : शनै : छोड़ चुका हूँ ...
    सबसे पहले ... नान वेज ... फिर ... वाइन ... उसके बाद ... स्मोकिंग ... अब महसूस कर रहा हूँ
    बेहद सुकूं ...
    अब आगे १-२ और नित्य कर्मों की ओर ध्यान है, देखें ... कब से छोड़ पाता हूँ ...
    .
    सभी मित्रों को दशहरा पर्व की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं ...
    एक शेर के सांथ ...
    .
    रावण मिलते कदम कदम पे, ये कलयुग की माया है
    राम खड़े चुप-चाप देखते, रावण ने रावण जलाया है !










पैलाग
क़र्ज़ में डूबे लोगों के लिए आत्महत्या एक ऐसा इंश्योरेन्स है जिसका प्रीमियम भरने की भी ज़रूरत नहीं पड़ती.











  • आज शाम सात बजकर पैंतालिस मिनट पर आकाशवाणी चित्तौड़ पर आधे घंटे की 'मीडिया के सरोकार' विषय पर एक परिचर्चा ब्रोडकास्ट होगी.ज़रूर सुनिएगा.





क्या आप ब्लॉगर है और अपना ब्लॉग को न्यूज़ पोर्टल में बदलना चाहते है तो हम आपका ब्लॉग को न्यूज़ पोर्टल में बदल देगे| इसके लिए आपको केवल ३५०० या ५५०० /- रूपये खर्च करने होगे | आप संपर्क करे | .. फ़ोन -09167618866



  • जब तारे रक्स करते हैं और चंदा गीत गाता है
    किसी की याद में अश्कों से दामन भीग जाता है

    फ़क़त वो एक ही गुल तो इधर का रुख नहीं करता
    गुलों का शोख़ मौसम तो चमन में आता जाता है

    तुम्हे कैसे बताएं हम यही दस्तूरे दुनियां है
    जो कुछ ज्यादा चमकता है वो मोती टूट जाता है

    एक इन्सां को मनाने का हुनर हमको भी है हासिल
    उसे कैसे मनाएँ हम, अगर रब रूठ जाता है
    mcs






Pankaj Prasun
आज मेरा मन भर आया है .
नवमी वाले दिन 9 शक्तिवों की प्रतीक 9 कन्याओं की पूजा की जाती है.पर अफ़सोस इस बार मोहल्ले में बहुत खोजने पर 5 कन्याएं ही मिल पाई. कैसी विडम्बना है एक और हम उन्हें शक्ति का प्रतीक मानकर पूजते हैं तो दूसरी और इस शक्ति को संसार में आने ही नहीं देना चाहते.हमारे देश में कन्याएं ENDANGERED SPECIES हैं.और अगर यह विलुप्त हो गयीं तो संस्कृति का धनी देश कंगाल हो जायेगा.आज ही मैंने अखबार में पढ़ा कि एक नवजात बच्ची नाले के किनारे पडी मिली.कितना दुर्भाग्यपूर्ण है मिट्टी की दुर्गा का विसर्जन गंगा में किया जाता है और जिन्दा दुर्गा को नाले में फेंक दिया जाता है.. पंकज प्रसून






पिछले नौ दिनों से माता की पूजा करने वालो, कन्याओं को भोज कराने और पूजने वालो...आज से ये औपचारिकता समाप्त हुई...
आइये अब कल से (आज से भी) कन्या भ्रूण हत्या करें...अपनी ही बेटी के साथ विभेद करें.....अपनी ही माँ के साथ दुर्व्यवहार करें....आखिर अब लगभग छः माह बाद ही फिरसे नव-दुर्गा का पर्व आएगा तब तक महिलाओं के साथ करें भेदभाव, दुर्व्यवहार और समय आने पर करेंगे उनकी पूजा....
जय माता दी






गांव के जिन स्कूलों में बिजली कभी नहीं गई वहां के विद्यार्थियों से भी सरकार बिजली-शुल्क वसूल रही है. कैसा अंधेर है !



  • ब्रेकिंग न्‍यूज इस वक्‍त सभी चैनलों पर चल रही है :-

    रामलीला मैदान में दहन किए जाने वाले पुतलों में से रावण का पुतला फरार। सुनने में आया है कि वो कुछ नेताओं की तलाश कर रहा है। कोई उसे बतलाए कि कुछ तो तिहाड़ में सुरक्षित हैं, कुछ अस्‍पताल में और बाकी संसद में। आपको क्‍या लगता है कि वो उन तक पहुंच सकेगा, क्‍या आप उनमें से कुछ महत्‍वपूर्ण नेताओं के नाम बतला सकते हैं, जिनकी तलाश रावण नहीं, रावण का पुतला कर रहा है ? घबरा गए, यही संशय प्रकट किया था पुतले ने कि फेसबुक के वीर पसंद करेंगे और खिसक जायेंगे।








जय श्री कृष्ण !!!
विजया-दशमी (दशहरा) के पावन पर्व अवसर पर सभी मित्रो, बन्धु-बांधवों को ढेरों- बधाई और हार्दिक शुभकामनाये.






Sanyog Shrivastava shared Mohit Kumar's photo.












  • बातों में तो उसकी समझदारी है
    रेत के घर में है,हवा से यारी है
     
     




laxmibai nagar (sarojani nagar) ka ravan...jalane waalaa hai....








  • ओह्ह... आज विजयादशमी भी है क्या... अजीब सा ही सन्नाटा पसरा है यहाँ चारों तरफ... वो रौनक वो मेले.... वो भीड़ वो झूले....अपना घर बहुत याद आ रहा है... :-(




दम है तो मचाओ हल्ला
" नरेन्द्र मोदी ने एक ऑफिसर को जेल में डाल दिया जिसका इतिहास भी गुनाह से भरा हुवा है तो हल्ला मचा दिया था और उस पुलिशवाले की असलियत जनता से छुपा रहे हो ...तो चलो अब जिसके हाथ खून से रंगे हुवे है ऐसे इस मुख्यमंत्री "उमर अब्दुल्ला" के बारे में क्या ख्याल है ...दम है तो मचाओ अब हल्ला ? इस उमर अब्दुल्ला के सामने तो चस्मदीद गवाह भी है ...कहा गए मानव अधिकारवाले .. ..अन्ना हजारे जी अब इस पर भी अपना स्टेटमेंट तो दो ,या फिर आपके साथी कहते है वही सही है ,कश्मीर में जनमत ? "



बडे गंदे लगते हैं ...ये मंत्री , ये नेता , ये पोलटिस और ......और ये गोरमिंट ...सुर में गाइए , तो जरा
बहिन जी अपना दू ठो मंतरी जी को बर्खास्त कर दीहिन हैं , लेकिन सुने हैं कि ऊपी के सबसे मालदार नेताइन में बहिन जी का ही खुद का लंबर वन पोजीसन डिक्लियर हुआ है
 
पिछले दिनों सुना कि टेलिविजन सेंसर बोर्ड , अश्लील , फ़ूहड , बेतुके और वाहियात प्रोग्राम पर लगाम कसेगा , लेकिन अब big boss देख के समझ गए ....अबे कौन उडाता है ई सब अफ़वाह रे
 
 

2 टिप्‍पणियां:

  1. जय हो महाराज ... सब के दिल ओ दिमाग का हाल एक जगह ... क्या बात है !

    उत्तर देंहटाएं
  2. maja aaya ...ek se badhkar ek aur sab ajaybhai ki kalam se kaid :))))))

    उत्तर देंहटाएं

पोस्ट में फ़ेसबुक मित्रों की ताज़ा बतकही को टिप्पणियों के खूबसूरत टुकडों के रूप में सहेज कर रख दिया है , ...अब आप बताइए कि आपको कैसी लगे ..इन चेहरों के ये अफ़साने